क्रिप्टो करेंसी क्या है-What Is Cryptocurrency In Hindi?

क्रिप्टो करेंसी क्या है-What Is Cryptocurrency In Hindi?

आजकल बहुत सारे लोगों में क्रिप्टो करेंसी के बारे में बात हो रही है की Crypto currency में निवेश करो लेकिन आजभी बहुत सारे लोगों को क्रिप्टो करेंसी क्या है इस बारे में पता नहीं है। आजके इस पोस्ट में हम आपको Crypto currency के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे। Cryptocurrency जिसे समान्यत: क्रिप्टो-करेंसी या क्रिप्टो कहा जाता है। यह एक डिजिटल या वर्चुअल करेंसी होती हैं, जिसमें सुरक्षित लेनदेन के लिए क्रिप्टोग्राफी का इस्तेमाल किया जाता है।

Cryptocurrencies के ऊपर Government का कोई भी हाथ नहीं होता है क्यूंकि ये Decentrallized Currency होती हैं इसलिए इनके ऊपर कोई भी agency या सरकार या कोई board का अधिकार नहीं होता, जिसके चलते इसके मूल्य को regulate नहीं किया जा सकता। तो चलिए जानते हैं की आकिर ये Cryptocurrency क्या होती है।

और पढ़े: Option Trading क्या है

क्रिप्टो करेंसी क्या है-What Is Cryptocurrency In Hindi?

क्रिप्टोकरेंसी क्या है – Cryptocurrency in Hindi

क्रिप्टोकरेंसी एक डिजिटल पेमेंट सिस्टम है, जिसमें ट्रांजैक्शन बैंक वेरिफाई नहीं होता है। Cryptocurrency को digital currency भी कहा जाता है। यह एक तरह का Digital Asset होता है जिसका इस्तमाल चीज़ों की खरीदारी या Services के लिए किया जाता है। इन currencies में cryptography का इस्तमाल होता है। यूजर्स को फिजिकल रूप में करेंसी अपने साथ रखने या फिर वास्तविक रूप में करेंसी के आदान-प्रदान की जरूरत नहीं होती है।

यह एक Peer to Peer Electronic System होता है जिसका इस्तमाल हम Internet के माध्यम से चीजों कोऔर Services को purchase करने के लिए कर सकते हैं। इस व्यवस्था में सरकार ये Banks को बिना बताए भी काम हो सकता

। अगर हम सभी cryptocurrency की बात करें तो उनमें से जो सबसे पहले प्रसिद्ध हुआ वो है Bitcoin। इसे सबसे पहले भी बनाया गया था और इसे सबसे ज्यादा भी इस्तमाल में लाया जाता है, Bitcoin की शुरुआत साल 2009 में हुई थी।
हलांकि की कुछ देशों में Cryptocurrency को legal tender में किया जा रहा है और वह पर आप इसका इस्तेमाल local currency की तरह कर सकते है।

 Whatsapp Group 👉  अभी जुड़े
 Telegram Group 👉  अभी जुड़े

 

क्रिप्टो करेंसी कैसे काम करती है?

क्रिप्टोकरेंसी एक सार्वजनिक बहीखाते पर आधारित है, जिसे (Blockchain) ब्लॉकचेन कहा जाता है। इसमें सभी करेंसी निवेशकों को ट्रांसजेक्शन रिकॉर्ड अपडेट किए जाते हैं। क्रिप्टोकरेंसी के यूनिट को तैयार करने की प्रक्रिया को माइनिंग कहा जाता हैं, जिसमें कॉइन जनरेट करने के लिए कॉम्प्लिकेटेड मैथमैटिकल प्रोब्लम को सॉल्व किया जाता है, जिसके लिए कंप्यूटर का इस्तेमाल किया जाता है।

यूजर्स ब्रोकर की मदद से क्रिप्टोकरेंसी खरीद सकते हैं। क्रिप्टोग्राफिक वॉलेट का इस्तेमाल कर इन्हें स्टोर और खर्च कर सकते है। अगर आपने क्रिप्टोकरेंसी में निवेश किया है, तो आपके पास फिजिकली कुछ नहीं होता है। आपके पास एक की (Key) होती है, जिसके जरिए आप अपने क्रिप्टोकरेंसी से भुगतान कर सकते हैं।

हालांकि बिटकॉइन 2009 से इस्तेमाल में है, लेकिन क्रिप्टोकरेंसी और ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल फाइनेंशियली तेजी से बढ़ रहा है। संभव है कि भविष्य में इसका इस्तेमाल बढ़ सकता है। इस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल बॉन्ड, स्टॉक और दूसरे फाइनेंशियल असेट के ट्रांजैक्शन में किया जाता है।

क्रिप्टो करेंसी क्या है-What Is Cryptocurrency In Hindi?

Cryptocurrencies के प्रकार

देखा जाए तो बहुत सी Cryptocurrency है लेकिन हम कुछ ही Cryptocurrency के बारे मैं बात करेंगे जिनका market cap बहुत बड़ा है। बहुत सारी Cryptocurrency है जो की अच्छा perform कर रहे हैं और जिन्हें आप Bitcoin के अलावा भी इस्तमाल कर सकते हैं।

Rank Name Symbol Price Market Cap
1 Bitcoin BTC $48,462.08 $911.8B
2 Ethereum ETH $3,828.18 $449.7B
3 Binance Coin BNB $533.67 $84.6B
4 Tether USDT $1.00 $77.8B
5 Solana SOL $180.98 $54.9B
6 Cardano ADA $1.34 $43.0B
7 XRP XRP $0.80 $37.4B
8 USD Coin USDC $1.00 $36.9B
9 Polkadot DOT $28.23 $28.4B
10 Terra (LUNA) LUNA $68.62 $27.6B

1) Bitcoin (BTC)

जहा पर Cryptocurrency की बात होती है वहाँ पर Bitcoin की बात न हो तब तो ये बिलकुल भी मुमकिन नहीं है क्यूंकि Bitcoin दुनिया से सबसे पहला Cryptocurrency है जिसे Satoshi Nakamoto ने 2009 में बनाया था।

ये एक digital currency है जिसे की केवल online ही goods और services खरीदने के लिए इस्तमाल किया जाता है। यह एक De-centrallized currency है जिसका मतलब है की इसपर Government या कोई भी institution का कोई भी हाथ नहीं है। Bitcoin को जब launch किया गया था तब इसकी कीमत $0 थी जो की बाद में increase होती गयी। अगर हम आज की बात करें तो इसका मूल्य अब काफी बढ़ गया है।
Bitcoin की total supply limited है और कभी ये 21,000,000 coins से ऊपर नहीं जाएगी।

2) Ethereum (ETH)

Bitcoin के अलावा कोई और cryptocurrency popular है तो वो Ethereum है। Ethereum भी एक decentralized open source blockchain system है। इसके Founder का नाम Vitalik Buterin है। इसके Cryptocurrency token को ‘Ether’ भी कहा जाता है। Ethereum को 2015 में officially launch किया गया था। Ethereum एक cryptocurrency भी है और एक blockchain platform भी है।

ये Platform इसके users को digital token बनाने में मदद करता है जिसकी मदद से इसे currency के तोर पर इस्तमाल किया जा सकता है। हाल ही में ही एक Hard Fork के होने से Ethereum दो हिस्सों में विभाजित हो गया है Etherem (ETH) और Etheriem Classic (ETC) .

 3)Binance Coin-

Binance एक cryptocurrency exchange है जो वॉल्यूम के हिसाब से दुनिया का सबसे बड़ा एक्सचेंज है। Binance ने ही binance coin को launch किया था। Binance को 2017 में लॉन्च किया गया था, लेकिन अपने प्लेटफॉर्म पर व्यापार को सुविधाजनक बनाकर बहुत तेजी से विस्तार किया।Market cap के हिसाब से binance coin तीसरे नंबर पर आता है।

Binance coin भी इसी network का हिस्सा है. वैसे आपको बता दे की binance world का largest cryptocurrency exchange है. आज के समय एक binance coin की कीमत $500 के करीब है।

 4)Tether

Market cap के लिहाज़ से tether भी एक बहुत बड़ी cryptocurrency है। Tether का symbol (USDT) है अगर आप कही USDT देखते है तो उसका मतलब tether ही है। ether को 2014 में launch किया गया था उस समय इसका नाम realcoin था। इस cryptocurrency को bitcoin blockchain के ऊपर बनाया गया है। USDT बाकि cryptocurrency की तरह बहुत अधिक volatile नहीं है।

5)Dogecoin 

Dogecoin को Bitcoin का मजाक करने के लिए कुत्ते से उसकी तुलना की गयी जो आगे चलकर एक Cryptocurrency का रूप ले लिया। इसके Founder का नाम Billy Markus है। Litecoin की तरह ही इसमें भी Scrypt Algorithm का इस्तमाल होता है।
Dogecoin की Market Value है $197 million से भी ज्यादा और इसे पुरे विश्व में 200 merchants से भी ज्यादा में accept किया जाता है। इसमें भी Mining दूसरों के मुकाबले बहुत जल्दी होती है।

6)Solana

क्रिप्टो इस सूची में 2021 में अपनी बेहद सफल उपलब्धि के कारण तीसरे स्थान पर है। एसओएल ने खुद को बाजार में सबसे तेजी से बढ़ने वाली क्रिप्टो में से एक साबित कर दिया है। लेकिन हाल ही में, सोलाना को गिरावट का सामना करना पड़ रहा है।
इसके अलावा, इसमें कोई असहमति नहीं हो सकती है कि एसओएल एथेरियम के लिए सबसे बड़ा प्रतियोगी है। रिपोर्टों के अनुसार, 2021 में SOL टोकन 13,662% बढ़ा।

क्रिप्टो करेंसी क्या है-What Is Cryptocurrency In Hindi?

क्रिप्टोकरेंसी कैसे खरीद सकते हैं?

क्रिप्टोकरेंसी खरीदने के लिए आपको निचे दिए गए स्टेप को फॉलो करने होंगा

1: प्लेटफॉर्म का चुनाव

सबसे पहले आपको एक प्लेटफॉर्म का चयन करना है। आप ट्रेडिशनल ब्रोकर या फिर क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज में से किसी एक को चुन सकते हैं।

ट्रेडिशनल ब्रोकर : आजकल कई ऑनलाइन ब्रोकर क्रिप्टोकरेंसी खरीदने या फिर बेचने का ऑप्शन देते हैं। ये ब्रोकर क्रिप्टोकरेंसी के साथ बॉन्ड, स्टॉक और दूसरे फाइनेंसशियल असेट का ऑप्शन भी देते हैं।

क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज : क्रिप्टोकरेंसी खरीदने के लिए एक्सचेंज भी एक अच्छा पर्याय है। ये एक्सचेंज क्रिप्टोकरेंसी, वॉलेट स्टोरेज, ब्याज अकाउंट के ऑप्शन देते हैं।

इन प्लेटफॉर्म का चुनाव करने से पहले आप देख लें कि ये कितना फीस ले रहे हैं और इनमें आपको क्या-क्या फीचर मिल रहे हैं।

2: अकाउंट में फंड डालें

जैसे ही आप प्लेटफॉर्म चुन लेते हैं, तो आपको उस अकाउंट में फंड डालना है ताकि आप ट्रेडिंग शुरू कर सकें। क्रेडिट कार्ड से क्रिप्टो खरीदारी को जोखिम भरा माना जाता है, और कुछ एक्सचेंज क्रेडिट कार्ड को सपोर्ट नहीं करते हैं। क्रिप्टोकरेंसी अत्यधिक अस्थिर हैं, ऐसे में इन्हें लोन लेकर खरीदना सही नहीं है। कुछ प्लेटफॉर्म ट्रांसफर और वायर ट्रांसफर भी स्वीकार करते हैं।

3: प्लेसिंग ऑर्डर

अकाउंट में फंड डालने के बाद आपको ब्रोकर या एक्सचेंज की वेब या मोबाइल प्लेटफॉर्म पर क्रिप्टोकरेंसी का ऑर्डर प्लेस करना है। इसके साथ ही यूजर्स क्रिप्टो करेंसी में फिनटेक ऐप्स जैसे PayPal, Cash App, और Venmo के जरिए भी निवेश कर सकते हैं। इन ऐप्स के जरिए यूजर्स क्रिप्टो करेंसी खरीद या बेच सकते हैं।

और पढ़े: स्टॉक मार्केट से पैसे कैसे कमाए

CryptoCurrency के फायदे

CryptoCurrency के फ़ायदों के बारे में जानते हैं –

  • Cryptocurrency transactions one to one की जा सकती है वहाँ पर third party जैसे की बैंक या payment transferer का बीच में involvement होता ही है, Cryptocurrency आप बिना किसी third party के सीधे sender को भेज या receive सकते है।
  • Cryptocurrency में fraud होने के chances बहुत ही कम हैं।
  • Cryptocurrency की अगर बात की जाये तो ये normal digital payment से ज्यादा secure होते हैं।
  • Cryptocurrency से payment करने पर transaction fees भी बहुत कम लगती है

Cryptocurrency के नुकसान

चलिए कुछ CryptoCurrency के नुकसान के बारे में जानते हैं

  • Cryptocurrency में आपने transaction complete कर दिया तो उसके बाद उसको reverse करना असंभव हो जाता है क्यु की इसमें ऐसा कोई option ही नहीं है जिस से की transaction reverse की जा सके।
  • अगर आपकी Wallet id खो जाती है तो हमेशा के लिए खो जाती है क्यु की गुम हुई wallet id को recover करना यहाँ संभव नहीं है।
  • Cryptocurrency से लेन देन को track नहीं किया जा सकता है

Conclusion

मुझे उम्मीद है की मैंने आप लोगों को क्रिप्टोकरेंसी क्या है (Cryptocurrency in Hindi) के बारे में पूरी जानकारी दी और मैं आशा करता हूँ आप लोगों को Cryptocurrency के बारे में समझ आ गया होगा।

मेरा आप सभी से गुजारिस है की आप लोग भी इस जानकारी को अपने आस-पड़ोस, रिश्तेदारों, अपने मित्रों में Share करें, जिससे की हमारे बिच जागरूकता होगी और इससे सबको बहुत लाभ होगा।
यदि आप लोगों को किसी भी तरह की कोई भी doubt है तो आप मुझे कॉमेंट करके पूछ सकते हैं. मैं जरुर उन Doubts का हल निकलने की कोशिश करूँगा.
आपको यह लेख Cryptocurrency क्या है कैसा लगा हमें comment लिखकर जरूर बताएं।

यह भी पढ़ें: Finnifty क्या है?

FAQ –

Q-क्या क्रिप्टोकरेंसी सुरक्षित है?

Ans-आमतौर पर क्रिप्टोकरेंसी ब्लॉकचेन तकनीक का उपयोग करके बनाई जाती है। ब्लॉकचेन का मतलब है कि लेन-देन ब्लॉक में दर्ज किए जाते हैं। यह काफी जटिल तकनीकी प्रक्रिया है। इसलिए क्रिप्टोकरेंसी लेन-देन की डिजिटल लेजर से छेड़छाड़ करना हैकर्स के लिए भी मुश्किल होता है।

Q- भारत की क्रिप्टो करेंसी कौन सी है?

Ans- सोलाना ( Solana) भारत की क्रिप्टो करेंसी है। ये कुछ समय में काफ़ी ज़्यादा लोकप्रिय हुई है।

Q- क्या भारत में क्रिप्टोकरेंसी लीगल है?

Ans- भारत में क्रिप्टोकरेंसी पूरी तरह लीगल है। आप कोई भी Cryptocurrency खरीद सकते हैं।

Q- bitcoin के जनक किसे कहा जाता है?

Ans- bitcoin के जनक “Satoshi Nakamoto” को कहा जाता है।

1 thought on “क्रिप्टो करेंसी क्या है-What Is Cryptocurrency In Hindi?”

Leave a Comment